DU Admission 2019: दिल्ली यूनिवर्सिटी में इस तारीख से शुरू होगी एडमिशन की प्रक्रिया, जानिए डिटेल

खास बातें

  • एडमिशन की प्रक्रिया 15 अप्रैल से शुरू हो जाएगी.
  • एडमिशन की प्रक्रिया 7 मई को समाप्त होगी.
  • स्पोर्ट्स और एक्स्ट्रा-करिकुलर कोटा के तहत 5 प्रतिशत सीटें रिजर्व है.

नई दिल्ली: दिल्ली यूनिवर्सिटी में एडमिशन (Delhi University Admission) की प्रक्रिया अप्रैल में शुरू हो जाएगी. अंडर ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, एमफिल और पीएचडी में एडमिशन (DU Admission) की प्रक्रिया 15 अप्रैल से शुरू हो जाएगी. इस साल एडमिशन (DU Admission 2019) की प्रक्रिया 1 महीने पहले शुरू हो रही है. अंडर ग्रेजुएट, पोस्ट ग्रेजुएट, एमफिल और पीएचडी  कोर्स में एडमिशन की प्रक्रिया 7 मई को समाप्त होगी. एडमिशन के लिए अप्लाई करने वाले स्टूडेंट्स को अपने एप्लीकेशन फॉर्म में सुधार करने का मौका दिया जाएगा. स्टूडेंट्स 20 मई से अपने एप्लीकेशन फॉर्म में सुधार कर पाएंगे.

डीयू में दाखिले (Admission In Du) के लिए एक्स्ट्रा को-करिकुलर एक्टिविटीज और स्पोर्ट्स फिटनेस ट्रायल 20 मई से शुरू होगा. इन ऑप्शन के माध्यम से एडमिशन कट ऑफ जारी होने से पहले शुरू हो जाएगा. डीयू के सभी कॉलेजों में स्पोर्ट्स और एक्स्ट्रा-करिकुलर कोटा के तहत 5 प्रतिशत सीटें रिजर्व है. इस बार अगर स्टूडेंट अपनी स्ट्रीम बदलता है तो उसके 2 फीसदी अंक ही काटे जाएंगे. जबकि पहले ऐसा करने पर स्टूडेंट्स के 5 फीसदी अंक काटे जाते थे.

बता दें कि पिछले साल दिल्ली यूनिवर्सिटी (Delhi University) की 60 हजार सीटों पर ए़डमिशन के लिए 3 लाख के करीब स्टूडेंट्स ने आवेदन किया था. पिछले साल यूनिवर्सिटी ने 9 कट ऑफ लिस्ट जारी की थी. दिल्ली यूनिवर्सिटी की पहली कट ऑफ लिस्ट आने के बाद उसके विभिन्न कॉलेजों में 11,000 से ज्यादा स्टूडेंट्स ने एडमिशन लिया था.

ELECTION 2019:: क्या चुनावी घोषणा पत्र में इस बार भी हाशिए पर रहेगी शिक्षा पढ़ें पूरा आर्टिकल

RRB ALP 2nd CBT Scorecard: रेलवे एएलपी सेकेंड स्टेज सीबीटी परीक्षा का स्कोरकार्ड और फाइनल आंसर की जारी, यह रहा डायरेक्ट लिंक

RRB ALP 2nd CBT Scorecard: आआरबी ने असिस्टेंट लोको पायलट (एएलपी) व टेक्नीशियन सेकेंड स्टेज सीबीटी की फाइनल आंसर-की, स्कोर कार्ड जारी कर दी है। 

📌 इस लिंक पर क्लिक करके अपना स्कोर कार्ड जाने-👇👇👇👇

CLICK HERE

बच्चों की यूनिफार्म और किताबों का आया बजट ,कई साल से बजट के अभाव में नहीं मिल रही थी