प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना :- कवर किए गए जोखिम तथा प्रतिपूर्ति , देखें पात्रता शर्ते तथा आवश्यक सूचना

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना :- कवर किए गए जोखिम तथा प्रतिपूर्ति , देखें पात्रता शर्ते तथा आवश्यक सूचना

National education day: आज है राष्ट्रीय शिक्षा दिवस, मौलाना अबुल कलाम आजाद ने की थी राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्थापना

National education day: आज है राष्ट्रीय शिक्षा दिवस, मौलाना अबुल कलाम आजाद ने की थी राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्थापना

सन 1888 में स्वतंत्रता सेनानी मौलाना अबुल कलाम आजाद का जन्म हुआ था। उन्हीं के जन्मदिन पर हर साल 11 नवंबर को भारत में राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रूप में मनाया जाता है।  सितंबर 11 2008 को मानव संसाधन विकास मंत्रालय ने यह फैसला किया कि 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रुप में मनाया जाना चाहिए।

2008 से हर साल 11 नवंबर को राष्ट्रीय शिक्षा दिवस के रुप में मनाया जाता है।  वे हमारे देश के पहले शिक्षा मंत्री थे।  उन्हें स्वतंत्रता सेनानी, शिक्षाविद्, लेखक के रुप में जाना जाता है।

मौलाना अबुल कलाम आजाद एक शिक्षाविद् तो थे ही साथ ही एक स्वतंत्रता सेनानी भी थे। स्वतंत्रता संग्राम के समय वो ही भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में से एक थे। शिक्षा मंत्री रहते हुए उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति की स्थापना की थी। उनका मुख्य लक्ष्य प्राइमरी शिक्षा को बढ़ाना था।  1992 में उन्हें भारत रत्न से भी नवाजा गया था।  भारत की आजादी के बाद  मौलाना अबुल कलाम ने विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC की स्थापना की थी।

शिक्षा नीति, 33 साल बाद बदलने वाली है पढ़ाई की शक्लो-सूरत

शिक्षा नीति, 33 साल बाद बदलने वाली है पढ़ाई की शक्लो-सूरत

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार जल्द ही नयी शिक्षा नीति लाने जा रही है. मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने नोएडा में आयोजित एक कामर्यक्रम से इतर कहा कि सरकार जल्द ही 33 साल बाद नयी शिक्षा नीति लेकर आ रही है.   उन्होंने संवाददाताओं से कहा, विशेषज्ञों, विद्यार्थियों, अभिभावकों और परिजनों के साथ व्यापक परामर्श किये गये हैं. एक लाख से अधिक ग्राम समितियों के साथ गहन परामर्श किया गया है. नयी नीति ‘ज्ञान, विज्ञान, नवाचार और संस्कार’ पर जोर देती है. उन्होंने कहा कि यह नीति भारत-केंद्रित होने वाली है और प्रधानमंत्री के नये भारत के सपने के अनुसार यह देश को सशक्त करेगी. उन्होंने कहा कि नीति को जल्दी ही सामने रखा जाएगा.

SSC MTS की 7099 वैकेंसी 2019: जानें यूपी , बिहार समेत तमाम राज्यों में कितनी भर्तियां, देखें पूरी लिस्ट👇

SSC MTS Vacancy 2019: कर्मचारी चयन आयोग (एसएससी) ने एमटीएस रिजल्ट जारी करने के एक दिन बाद बुधवार को एमटीएस की संभावित वैकेंसी भी जारी कर दी है। इस भर्ती के तहत कुल 7099 भर्तियां की जाएंगी। इसमें 5415 वैकेंसी 18 से 25 आयु वर्ग के तहत भरी जाएंगी जबकि 1684 वैकेंसी 18 से 27 आयु वर्ग के तहत भरी जाएंगी। कुल 7099 भर्तियों में से 3382 वैकेंसी अनारक्षित होंगी। 2052 वैकेंसी ओबीसी, 517 एससी वर्ग के लिए, 584 एसटी और 564 ईडब्ल्यूएस के लिए आरक्षित हैं। वैकेंसी नोटिस के मुताबिक आयु वर्ग 18 से 25 के वर्ग में नॉर्थ वेस्ट रीजन में एमटीएस की 51, नॉर्थ रीजन में 1534, सीआर रीजन में 910, ईस्टर्न रीजन में 856, नॉर्थ ईस्टर्न रीजन में 180, मध्य प्रदेश रीजन में 83, वेस्टर्न रीजन में 1395, साउथ रीजन में 274, कर्नाटक केरल रीजन में 132 वैकेंसी है। 

SSC MTS परिणाम दो आयु वर्ग में घोषित किया गया है। 18 से 25 आयु वर्ग के लिए निर्धारित पदों के लिए 84778 और 18 से 27 आयु वर्ग के लिए निर्धारित पदों के लिए 26384 अभ्यर्थियों को सफल किया गया है। इस प्रकार दोनों आयु वर्ग के लिए 111162 अभ्यर्थी सफल किए गए हैं। हालांकि कुछ अभ्यर्थी ऐसे भी हैं, जो दोनों आयु वर्ग में सफल हुए हैं। ऐसे अभ्यर्थियों को 18 से 25 आयु वर्ग के पदों पर चयन में वरीयता दी जाएगी। परीक्षा में अनारक्षित और ईडब्ल्यूएस श्रेणी के लिए 30, ओबीसी के लिए 25 और एससी-एसटी के लिए 20 प्रतिशत न्यूनतम कटऑफ अंक की बाध्यता रखी गई थी, इससे कम अंक पाने वालों को अयोग्य घोषित कर दिया गया है।

पहले पेपर की परीक्षा में सफल अभ्यर्थी अब दूसरे पेपर की परीक्षा में शामिल होंगे। दूसरे पेपर की परीक्षा पूर्व में 17 नवंबर को प्रस्तावित थी लेकिन परिणाम में हुई देरी की वजह से परीक्षा को स्थगित कर 24 नवंबर की तिथि तय की गई है। बता दें कि एमटीएस केंद्रीय मंत्रालयों और दफ्तरों में चतुर्थ श्रेणी का पद है। इसके लिए ऑनलाइन यानी कम्प्यूटर आधारित परीक्षा 2 से 22 अगस्त 2019 तक हुई थी।

देश के 34 राज्यों के 146 शहरों में बने 337 परीक्षा केंद्रों पर 38.58 लाख परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी लेकिन इनमें से 49.73 यानी 1919004 परीक्षा में शामिल हुए थे। सिविल लाइंस स्थित एसएससी मध्य क्षेत्र दफ्तर के अंतर्गत आने वाले यूपी और बिहार के 1248183 अभ्यर्थियों ने इस परीक्षा के लिए आवेदन किया था। दोनों राज्यों के 19 शहरों में परीक्षा के लिए 107 केंद्र बनाए गए थे। आयोग ने अलग-अलग कारणों से 12 अभ्यर्थियों का अभ्यर्थन निरस्त किया है। साथ ही यह भी जानकारी दी गई है कि परीक्षा में एक समान अंक पाने वाले अभ्यर्थियों में जिसकी आयु ज्यादा होगी, उसे वरीयता दी जाएगी। अगर दोनों आयु भी एक समान हुई तो नाम के पहले अक्षर के आधार पर चयन किया जाएगा।

West Bengal : एक प्राथमिक विद्यालय के शिक्षक, उनकी गर्भवती पत्नी, 8 वर्ष के बेटे की क्रूरतापूर्वक हत्या कर दी का #brutal_bengal

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में पति, उसकी गर्भवती पत्नी और 8 साल के बेटे की निर्मम हत्या के बाद विवाद बढ़ता ही जा रहा है. कांजीगंज इलाके में हुई तिहरे हत्याकांड के 36 घंटे बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने दावा किया कि मृतक बंधुप्रकाश पाल एक स्वयंसेवक था.

  • आरएसएस का दावा- संघ के कार्यक्रम में शामिल हो चुका था बंधु
  • पुलिस- इस तिहरे हत्याकांड के लिए करीबी रिश्तेदारों पर भी शक

PRIMARY SCHOOL TEACHER, his pregnant wife, 8 yrs old son killed brutally in
#brutal_bengal. Where is Kerala’s libstards, secular journalist and intellectual pimps to cry fascism??

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद जिले में तिहरे हत्याकांड के बाद राज्य में विवाद बढ़ता ही जा रहा है. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने इस हत्याकांड के 36 घंटे बाद दावा किया है कि कत्ल किए गए शख्स बंधुप्रकाश पाल का संबंध आरएसएस से था. एक दिन पहले मुर्शिदाबाद में एक ही परिवार के तीन लोगों की हत्या कर दी गई. मृतकों में स्कूल का शिक्षक, उसकी गर्भवती पत्नी और 8 साल का बच्चा शामिल है.

जियागंज थाना क्षेत्र के कांजीगंज इलाके में हुई इस हत्याओं के 36 घंटे बाद राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) ने एक अलग दावा किया है. आरएसएस का कहना है कि मृतक बंधुप्रकाश पाल एक स्वयंसेवक था.

एक बार संघ के कार्यक्रम में शामिल हुआ था बंधुः RSS

पश्चिम बंगाल के आरएसएस महासचिव जिस्नु बसु ने कहा कि शुरुआत में हमने सोचा कि इसे हल किया जाएगा. और हमें लगता है कि यह कोई राजनीतिक हत्या नहीं है, लेकिन पुलिस लोगों को न्याय दिलाने के मकसद में नाकाम रही है. वह हाल ही में एक मिलन समारोह में शामिल हुए थे, जिसे हम नियमित अंतराल पर आयोजित करते हैं और एक बार इसमें उन्होंने हिस्सा लिया था.

उन्होंने कहा कि हम इस अपराध में शामिल लोगों की गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं, लेकिन अभी तक एक भी गिरफ्तारी नहीं हुई है. वे फोरेंसिक रिपोर्ट का इंतजार कर रहे हैं, अब तक क्या हो रहा है. हालांकि पुलिस का कहना है कि हम हत्याकांड की जांच कर रहे हैं और जल्द ही इसके बारे में जानकारी मिलेगी.

खुशखबरी: सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5% बढ़ाया, नवंबर में बढ़ी सैलरी के साथ 3 महीने का महंगाई भत्ता एरियर

7th Pay Commission DA Hike Arrear: नरेंद्र मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों का महंगाई भत्ता 5% बढ़ाया, नवंबर में बढ़ी सैलरी के साथ 3 महीने का महंगाई भत्ता एरियर

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते में 5 प्रतिशत की बढ़ोतरी कर दिया है. बढ़ा हुआ महंगाई भत्ता (Dearness allowance) केंद्रीय कर्मचारियों को 1 जुलाई 2019 से जोड़कर दिया जाएगा. इसका लाभ कुल 55 लाख कर्मचारियों और 62 लाख एक्स कर्मचारियों को मिलेगा. बढ़े हुए महंगाई भत्ते से केंद्र सरकार पर कुल 16 हजार करोड़ रुपये का अतिरिक्त भार पड़ेगा. केंद्रीय मंत्री जावड़ेकर ने बताया कि महंगाई भत्ता यानी डीए (Dearness allowance) में बढ़ोतरी जुलाई से प्रभावी होगी जिसका मतलब ये हुआ कि नवंबर में जब कर्मचारियों को सैलरी और पेंशनरों को पेंशन मिलेगा तो उनके खाते में अक्टूबर की बढ़ी हुई सैलरी और जुलाई, अगस्त और सितंबर कुल तीन महीने का बढ़ा हुआ डीए एरियर के तौर पर मिलेगा.

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि सरकार ने दिवाली से पहले केंद्रीय कर्मचारियों को तोहफे के तौर पर ये सौगात दी है. आपको बता दे कि केंद्र सरकार ने पिछले वर्ष केंद्रीय कर्मचारियो के महंगाई भत्ते में सिर्फ 2 प्रतिशत की बढ़ोतरी किया था. लेकिन इस बार सरकार ने महंगाई भत्ते (Dearness allowance) में दोगुना से भी ज्यादा बढ़ोतरी किया है ।

केंद्र सरकार के इस फैसले से 7वें वेतनमान के तहत सैलरी पा रहे केंद्रीय कर्मचारियों की सैलरी में 900 रुपये से 12500 रुपये की बढ़ोतरी होगी. आपको बता दें कि केंद्रीय कर्मचारी पिछले कई दिोने से महंगाई भत्ते में बढ़ोतरी की मांग कर रहे थे. हालांकि केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के न्यूनतम वेतन और भत्ते में बढ़ोतरी को लेकर कोई ऐलान नहीं किया है.