चंदौली : विद्यालय से गायब रहने वाले 21 शिक्षकों का वेतन रूका

चंदौली : विद्यालय से गायब रहने वाले 21 शिक्षकों का वेतन रूका

जनपद चंदौली में परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति मोबाइल एप ECHO ATTENDANCE के माध्यम से दर्ज किये जाने के संबंध में

परिषदीय विद्यालयों में अध्ययनरत छात्र-छात्राओं व शिक्षकों की दैनिक उपस्थिति मोबाइल एप ECHO ATTENDANCE के माध्यम से दर्ज किये जाने के संबंध में

22 फरवरी से जनपद फतेहपुर तथा चंदौली में कक्षा 1 से 8 तक के सभी परिषदीय विद्यालय प्रातः 9:00 बजे से 3:00 बजे तक संचालित होंगे

22 फरवरी से जनपद फतेहपुर तथा चंदौली में कक्षा 1 से 8 तक के सभी परिषदीय विद्यालय प्रातः 9:00 बजे से 3:00 बजे तक संचालित होंगे

चंदौली में नवनियुक्तत 658 अध्यापकों का 2 सत्यापन उपरांत जारी हुआ वेतन भुगतान का आदेश, देखें अध्यापक विवरण👇

CHANDAULI VETAN 41556 DOWNLOAD CLICK HERE👈

विज्ञान मेले में चंद्रमा की कलाओं का प्रदर्शन

चंदौली : पूर्व माध्यमिक विद्यालय हथियानी में शनिवार को विज्ञान मेले का आयोजन किया गया। इसमें छात्रों ने प्रतिभा का प्रदर्शन किया। उन्होंने दिन रात, ग्रहण, चंद्रमा की कलाएं, सौर्य ऊर्जा, मानव शरीर की संरचना, दिमाग की कोशिकाएं पनडुब्बी ऊर्जा के स्वरूप, हृदय, नेत्र, माइक्रोस्कोप, श्वसन तंत्र, तरंग गति, कंप्यूटर आदि के मॉडलों का प्रदर्शन किया।

अगस्त्या इंटरनेशनल फाउंडेशन की ओर से आयोजित मेले में विशेषज्ञों ने छात्रों को सरल तरीके से विज्ञान की बारीकियों की जानकारी दी। पूमावि मुस्तफापुर, गोरारी, पैतुआ के छात्र व अध्यापकों ने छात्रों को बाल वैज्ञानिक बनने के तौर तरीके बताए। उनके मॉडलों की विधिवत जानकारी दी। कहा कि माडल तैयार करने के साथ उसकी क्रियाओं को जानना जरूरी है। क्रियाएं जानने से छात्रों का मन मस्तिष्क का विकास होगा। छात्रों ने विज्ञान मॉडलों और उसकी क्रियाओं के बारे में शिक्षकों से सवाल किए। शिक्षकों ने सवालों का जवाब देकर छात्रों की जिज्ञासा को शांत किया। इस मौके पर प्रधानाध्यापक धर्मराज ¨सह, डा. कुंवर वीपी ¨सह, अजीत ¨सह, सईद अहमद, श्वाती ¨सह, अनुज कुमार मिश्र, बबिता गिरी के अलावा संस्था के नीरज शर्मा, रवींद्र कुमार, राम अकबाल, अवनीश चौबे, जयप्रकाश मौजूद थे।

BTC प्रशिक्षणरत अभ्यर्थियों के आंतरिक मूल्यांकन के अंक प्रेषण के सम्बंध में आदेश

शीत लहर के चलते जिलाधिकारी चंदौली ने भी जिले के सभी परिषदीय विद्यालयों के समय में किया परिवर्तन

चंदौली : 24 व 25 दिसंबर को सभी माध्यमिक विद्यालयों में भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी की स्मृति में सुशासन दिवस के रूप में मनाए जाने का आदेश जारी, देखें👇

चंदौली : 24 व 25 दिसंबर को सभी माध्यमिक विद्यालयों में भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी की स्मृति में सुशासन दिवस के रूप में मनाए जाने का आदेश जारी, देखें👇
चंदौली : 24 व 25 दिसंबर को सभी माध्यमिक विद्यालयों में भारत रत्न अटल बिहारी बाजपेयी जी की स्मृति में सुशासन दिवस के रूप में मनाए जाने का आदेश जारी, देखें👇

Chandauli : अब नकल पर समाप्त होगी स्कूलों की मान्यता

चंदौली : यूपी बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने को माध्यमिक शिक्षा परिषद कोई कसर नहीं छोड़ना चाहता। केंद्र व्यवस्थापक बोर्ड के कई नए नियमों के दायरे में रहेंगे। नकल विहीन परीक्षा की मंशा पूरी न हो पाने की सूरत में विद्यालय की मान्यता समाप्त करने की कार्रवाई की जाएगी। यह कदम प्रयोगात्मक परीक्षाओं के दौरान भी उठेंगे। परिषद ने डीआइओएस को इसके लिए निर्देश दिया है।

सात फरवरी से शुरू होने वाली हाई स्कूल एवं इंटरमीडिएट की परीक्षा को लेकर केंद्रों पर तैयारियां अंतिम चरण में हैं। दिसंबर में ही प्रयोगात्मक परीक्षाएं शुरू हो जाएंगी, जिसे लेकर संबंधित स्कूल-कॉलेजों के प्रबंध तंत्र को निर्देश दिए गए हैं। सख्त नियमों के बीच परीक्षा के दौरान भी नकल को लेकर गाइड लाइन का पालन किया जाना है। किसी केंद्र पर परीक्षा के दौरान नकल होते पाई गई तो केंद्र व्यवस्थापक पर कार्रवाई होगी। ऐसे कॉलेजों को बोर्ड डिबार तो करेगा ही, मान्यता प्रत्याहरण की कार्रवाई भी होगी। स्थानीय तौर पर नकल वाले केंद्र का ब्योरा जिला प्रशासन के साथ परिषद के मंडलीय कार्यालय में भेजा जाएगा। जहां से यह तय होगा कि केंद्र पर आगे की परीक्षा किस तरह कराई जाए। बोर्ड के इस कड़े रुख ने नकल माफियाओं की बेचैनी और बढ़ा दी है। वह पहले से ही सीसीटीवी की अनिवार्यता से परेशान थे। वहीं, मान्यता समाप्त करने के फैसले ने रही सही कसर पूरी की है। वेबसाइट पर होगा ब्योराप परीक्षा के दौरान नकल पकड़े जाने पर परीक्षार्थियों के साथ केंद्र व्यवस्थापक को भी बख्शा नहीं जाएगा। केंद्र स्तर पर कहां लापरवाही हुई, इस ¨बदु पर जांच करते हुए एफआइआर होगी। कक्ष निरीक्षक भी लपेटे में लिये जाएंगे। सभी कार्रवाई परिषद की वेबसाइट पर अपलोड करना होगा। डीआइओएस डा. विनोद कुमार राय ने कहा कि नकल रोकने के लिए गत साल से ज्यादा सख्त रुख बोर्ड का है।